Related Posts with Thumbnails

Monday, 8 November 2010

मुझे ओबामा से मि‍लना है!!




टीवी. पर पि‍छले तीन दि‍नों से ओबामा दि‍खाई दे रहे हैं। मैंने अपने बेटे को बताया- बेटा ये हैं ओबामा, क्‍या नाम बताया ?


अपनी धुन में रि‍मोट कार चलाते हुए मेरे साढ़े तीन साल के बेटे ने दुहराया- उगा मामा


उगा मामा नहीं बेटा, ओबामा !
ये कोई चंदा मामा थोड़े ही हैं जो उगेंगे, ये तो दुनि‍या के सबसे ताकतवर आदमी हैं.....
एस.पी.डी. की तरह!
(एस.पी.डी. बच्‍चों के हंगामा चैनल पर आनेवाला एक फाइटिंग प्रोग्राम है।)
हॉं बेटा, यही समझ लो। ये अमेरि‍का के प्रेसीडेंट हैं और हमारे यहॉं मार्केटिंग करने आए हैं, अपने साथ हेलीकेप्‍टर,जेट, तोप और नई तकनीक भी लाए हैं !

हेलीकेप्‍टर का नाम सुनकर उसने अपना रि‍मोट रोककर पूछा-

पापा, मुझे ओबामा से मि‍लना है, मुझे भी ये टॉयज चाहिये‍ ! क्‍या उसके पास रि‍मोटवाली बोट है?


हॉ बेटा उनके पास सबकुछ है।


टीवी. पर ओबामा का भाषण आ रहा था। मेरे बेटे ने देखा सभी सांसद उनका स्‍वागत कर रहे हैं और तालि‍यॉं बजा रहे हैं।
पापा ओबामा कहॉं है अभी ?
संसद भवन में!
वह अचानक गौर से टीवी. देखने लगा।
-पापा, पापा ओबामा ने टॉयज कहॉं रखें हैं नजल नहीं आ लहा।
अपनी कार में बेटा!
पापा चलो ओबामा के पास टॉयज़ लेने चलो ना!
मैंने कहा- बेटा अब काफी रात हो गई है, ओबामा अंकल कल अमेरि‍का जा रहें हैं, वहॉं से वो ढेर सारे टॉयज़ भेजेंगे !
फि‍र ठीक है- यह कहकर वह अपनी रि‍मोट वाली कार में फि‍र से मगन हो गया।

मैं टी.वी में देखने लगा कि‍ तथाकथि‍त वि‍कसि‍त भारत की तस्‍वीर में वास्‍तवि‍क चीजें कैसे नदारत हो जाती हैं या कर दी जाती हैं।
खतरा तब ज्‍यादा होता है जब हम खुद को धोखा देते हैं..........





4 comments:

रंजन said...

:)

deepakchaubey said...

मेरे एक मित्र जो गैर सरकारी संगठनो में कार्यरत हैं के कहने पर एक नया ब्लॉग सुरु किया है जिसमें सामाजिक समस्याओं जैसे वेश्यावृत्ति , मानव तस्करी, बाल मजदूरी जैसे मुद्दों को उठाया जायेगा | आप लोगों का सहयोग और सुझाव अपेक्षित है |
http://samajik2010.blogspot.com/2010/11/blog-post.html

प्रवीण पाण्डेय said...

ओबामा बहुत बड़े हैं, कई देश उनके लिये खिलौनों जैसे हैं।

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

उबा मामा, वाह!